DNA: BSF का 'दायरा' बढ़ने से दिक्कत क्यों? | Border Security Force | Politics Over National Security

Oct 14, 06:15 PM

DNA: Why politics over national security?

The Ministry of Home Affairs (MHA) increased the jurisdiction of the Border Security Force (BSF) giving its officers the powers of arrest, search and seizure. The jurisdiction has been extended in three states of West Bengal, Punjab and Assam. The Ministry of Home Affairs has increased the area jurisdiction to 50 km inside Indian territory from International Border (IB) along India-Pakistan and India-Bangladesh borders in Assam, West Bengal and Punjab, earlier it was 15 km. 


DNA: राष्ट्र की सुरक्षा पर सियासत क्यों?

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सीमा सुरक्षा बल (BSF) के अधिकार क्षेत्र को बढ़ा दिया है और अब बीएसएफ के अधिकारियों को गिरफ्तारी, तलाशी और जब्ती की शक्तियां दी गई हैं. बीएसएफ अधिकारी पश्चिम बंगाल, पंजाब और असम में गिरफ्तारी और तलाशी ले सकेंगे. असम, पश्चिम बंगाल और पंजाब में पुलिस की तर्ज पर बीएसएफ (BSF) को सर्च और अरेस्ट करने का अधिकार मिला है. बीएसएफ (BSF) के अधिकारी तीनों राज्यों में बांग्लादेश और पाकिस्तान बॉर्डर से 50 किलोमीटर अंदर तक देश के राज्यों में कार्रवाई कर सकेंगे. इससे पहले यह दायरा 15 किलोमीटर था.